कैसे ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट खोले

यदि आपका ग्रामीण बैंक में अकाउंट है. और उसमे FD यानि फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोलना चाहते है. और अपने पैसे को फिक्स कर मिनिमम ब्याज से अधिक ब्याज प्राप्त करना चाहते है, तो इसके लिए FD अकाउंट खोलवा सकते है. लेकिन इसके लिए बैंको का कुछ नियम होता है. जिसके अनुसार FD अकाउंट ओपन किया जाता है.

लेकिन इसकी जानकारी अधिकासं ग्रामीण बैंक अकाउंट होल्डर को नही है. कि ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट कैसे खोलवाए. इसलिए इस पोस्ट में ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट खोलने के लिए पूरी जानकारी इस पोस्ट में दिया गया है. जिसे फॉलो कर आसानी से ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट खुलवा सकते है.

फिक्स डिपॉजिट (FD) अकाउंट क्या है

फिक्स डिपॉजिट अकाउंट एक प्रकार का बैंक खाता है. जिसमें एक निश्चित राशि को एक निश्चित समय अवधि के लिए जमा किया जाता हैं. उस पैसे पर मिनिमम ब्याज से अधिक ब्याज बैंक प्रदान करता है. FD अकाउंट बचत खाते से अलग होता है क्योंकि इसमें जमा राशि को एक निश्चित अवधि के लिए लॉक कर दिया जाता है, और उस अवधि के समाप्त होने से पहले उस पैसे को नहीं निकाल सकते हैं.

यदि निश्चित समय अवधि से पहले FD अकाउंट से पैसा निकालते है तो इसके लिए बैंक को सूचित करना होगा. इसके बाद बैंक आपके खाते से कुछ चार्ज लेगा और आपके पैसा को सेविंग अकाउंट में ट्रान्सफर कर देगा. इसके बाद अपने पैसा को निकाल सकते है.

ग्रामीण बैंक FD अकाउंट खोलने के लिए पात्रता

भारत के ग्रामीण बैंक में FD खाता खोलने के लिए, आपको निम्नलिखित पात्रता और मानदंडों को पूरा करना होगा. जो इस प्रकार है.

  • एक स्थायी भारतीय निवासी होना चाहिए.
  • आपकी आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए .
  • खाताधारक के पास valid identity proof होना चाहिए.

ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोलने के लिए निम्नलिखित डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है. जो इस प्रकार है:

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पता प्रमाण: बिजली का बिल, राशन कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट आकार का फोटो
  • नॉमिनी का विवरण

ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट कैसे खोलवाए

यदि ग्रामीण बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोलना चाहते है तो निचे दिए गए प्रोसेस को फॉलो करे.

  • सबसे पहले अपने नजदीकी ग्रामीण बैंक के बैंक ब्रांच में जाए या आपका जिस ग्रामीण बैंक में अकाउंट है. उस बैंक ब्रांच में जाए.
  • इसके बाद बैंक अधिकारी से FD अकाउंट खोलने के का फॉर्म प्राप्त करे.
  • अब फॉर्म में अपना सभी विवरण दर्ज करे. जैसे: नाम, एड्रेस, खाते का प्रकार, मोबाइल नंबर आदि.
  • इसके बाद कितना पैसा फिक्स्ड करना है और कितने दिन के लिए करना है, उसे दर्ज करे.
  • अब नॉमिनी का नाम दर्ज करे.
  • इसके बाद फॉर्म में हस्ताक्षर के स्थान पर अपना सिग्नेचर करे. अब फॉर के साथ मागे गए सभी डॉक्यूमेंट को atteched करे.
  • फॉर्म को पूरी तरह से भरने के बाद फॉर्म को बैंक अधिकारी के पास जमा करे.
  • इसके बाद बैंक अधिकारी आपके फॉर्म को जाँच करेगा. इसके बाद आपके FD अकाउंट खोल देगा.
  • FD अकाउंट खोलने के बाद, आपको बैंक से एक FD सर्टिफिकेट मिलेगा. यह सर्टिफिकेट आपके द्वारा जमा की गई राशि, समय अवधि और ब्याज दर का विवरण प्रदान करेगा.

ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट ब्याज दर

ग्रामीण बैंक का नामFD ब्याज दर प्रति वर्ष
Kashi Gomti Samyut Gramin Bank9.05%
चैतन्य गोदावरी ग्रामीण बैंक8.00%
Saurashtra Gramin Bank7.65%
Kerala Gramin Bank7.50%
पांडियन ग्राम बैंक7.35%
जम्मू और कश्मीर ग्रामीण बैंक7.30%
प्रगति कृष्णा ग्रामीण बैंक7.30%
तेलंगाना ग्रामीण बैंक7.25%
Rajasthan Marudhara Gramin Bank7.25%
आंध्र प्रगति ग्रामीण बैंक7.25%
आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक
पल्लवन ग्राम बैंक7.15%
सप्तगिरी ग्रामीण बैंक7.10%
Puduvai Bharathiar Grama Bank7.25%
Tripura Gramin Bank7.05%
प्रथमा बैंक7.05%
Malwa Gramin Bank7.00%
Punjab Gramin Bank7.00%
एलाक्वाई देहाती बैंक7.00%
कर्नाटक विकास ग्रामीण बैंक7.00%
सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक7.00%
Sutlej Kshetriya Gramin Bank7.00%
Baroda Rajasthan Kshetriya Gramin Bank6.85%
Narmada Jhabua Gramin Bank6.85%
बड़ौदा अप ग्रामीण बैंक6.80%
Allahabad Up Gramin Bank6.80%
Utkal Grameen Bank6.80%
Maharashtra Gramin Bank6.80%
कावेरी ग्रामीण बैंक6.80%
मध्य मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक6.75%
मेघालय ग्रामीण बैंक6.75%
मिजोरम ग्रामीण बैंक6.75%
देना गुजरात ग्रामीण बैंक6.75%
ओडिशा ग्राम्य बैंक6.75%
छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक6.70%

ग्रामीण बैंक FD के लाभ

  • FD अकाउंट में बचत खाते की तुलना में अधिक ब्याज दर मिलता है.
  • FD अकाउंट बैंक द्वारा बीमाकृत होते हैं, इसलिए आपकी जमा राशि सुरक्षित होती है.
  • FD अकाउंट आपको एक निश्चित रिटर्न प्रदान करते हैं.
  • FD अकाउंट विभिन्न प्रकार की अवधि और ब्याज दरों में उपलब्ध हैं.

FD अकाउंट के कुछ नुकसान

  • FD अकाउंट में जमा राशि को एक निश्चित अवधि के लिए लॉक कर दिया जाता है, इसलिए आप इसे उस अवधि के समाप्त होने से पहले नहीं निकाल सकते हैं.
  • यदि आप FD अकाउंट में से समय से पहले पैसे निकालते हैं, तो आपको जुर्माना देना पड़ सकता है.
  • FD पर अर्जित ब्याज पर आपको आयकर देना पड़ सकता है.

इसे भी पढ़े,

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न: FAQs

Q. ग्रामीण बैंक में एफडी पर कितना ब्याज मिलता है?

यदि आपका ग्रामीण बैंक में FD अकाउंट है और उसमे पैसा जमा किया है तो ग्रामीण बैंक में FD पर 3% से 7% तक ब्याज देता है.

Q. एफडी कितने साल में डबल होते हैं?

यदि अपने एफडी अकाउंट में पैसा जमा किये है और ब्याज दर 7% है, तो 10 या उससे अधिक साल में डबल होता है.

Q. समय से पहले FD तोड़ने से क्या होता है?

यदि समय से पहले FD तोड़ते है तो तो आपको जुर्माना देना पड़ सकता है. कुछ बैंक तो इसके अलावा कुछ फीस भी चार्ज करते हैं.

Leave a Comment